Dalit Chetna : Sahitya aur Samajik Sarokar/दलित चेतना : साहित्य और सामाजिक सरोकार

Rs.250/-

Isbn: 81-88097-15-4

Writer: Ramnika Gupta/रमणिका गुप्ता

Year: 2000

" रमणिका गुप्ता दलित साहित्य की एक सशक्त हस्ताक्षर है। यह किताब चार दृष्टियों से महत्त्वपूर्ण है। पहली, यह दलित साहित्य के हिन्दी अध्याय के पृष्ठ खोलती है; दूसरी, यह मुक्ति कामना के एक और शास्त्र मार्क्सवाद और दलित साहित्य के बीच अन्तर्विरोधों की पड़ताल करती है; तीसरी, यह दलित साहित्य और दलित अस्तित्व पर आर्थिक उदारीकरण व खगोलीकरण के प्रभावों पर विचार करती है; चौथी, यह कि नारीवादी साहित्य और दलित साहित्य में समानता के पहलुओं को उठाकर एक नई बहस को जन्म देती है। आज जबकि हिन्दी दलित साहित्य में लगभग सभी विधाओं में सृजन हो रहा है, तब भी लेख संग्रहों का प्रायः अभाव ही है। रमणिका गुप्ता की यह कृति इस अभाव की पूर्ति करती है। हम उम्मीद कर सकते हैं कि रमणिका जी सृजनात्मकता के उच्च शिखरों को स्पर्श करने के लिए निरन्तर प्रयासरत रहेंगी। "