Telgu Sahitya main Dalit Dastak/तेलगु साहित्य मैं दलित दस्तक

Rs.200/-

Writer: Ramnika Gupta/रमणिका गुप्ता

Year: 2001

" तेलुगु साहित्य में दलित दस्तक’ तेलुगु की दलित रचनाशीलता का एक ऐसा ज्वलत दस्तावेज़ है, जिसकी आंच इसके हर पाठक को महसूस होगी। यह एक ऐसी आवाज़ है, जिसके लिए सहानुभूति नहीं, गहरी सह-अनुभूति की जरूरत है। यहां ऐसे परित्यक्त और वंचित विषयों की एक पूरी सूची गिनाई जा सकती है, जो अभिव्यक्ति के दायरे में कम ही आ पाते थे। यह अभिव्यक्ति के मानचित्र का एक ऐसा विस्तार है, जिसे भारतीय समाज की ऐतिहासिक जरूरत कहा जा सकता है। विषय में होने वाले परिवर्तन के साथ-साथ इन कृतियों का सम्बोध्य भी बदला है। ये उनके प्रति संबोधित नहीं हैं, जिनकी एक खास तरह की अभिरुचि के प्रति ‘कंडीशनिंग’ हो चुकी है। तेलुगु साहित्य में दलित दस्तक एक मुकम्मल संकलन है, जिसमें कविताओं के साथ-साथ कहानियां और निबंध भी है । मैं हिंदी में इस चयन के प्रकाशन का स्वागत करता हूं।
डा केदारनाथ सिंह "