Stri-Mukti ki Pratinidhi telgu Kahaniyan/स्त्री-मुक्ति की प्रतिनिधि तेलगु कहानियां

Rs.150/-

Isbn: 978-93-81610-17-6

Writer: Dr. J.L. Reddy/ डॉ जे.एल. रेड्डी

Year: 2004/2012

" रमणिका फाउंडेशन आपके समक्ष जे.एल. रेड्डी की पुस्तक ‘स्त्री-मुक्ति की प्रतिनिधि तेलुगु कहानियाँ’ ला रहा है। हमारा अभिप्राय स्त्रियों की उस इच्छाशक्ति को सामने लाना है, जो विपरीत स्थितियों में भी अपनी अस्मिता को बचाने, स्वतंत्र निर्णय लेने और लक्ष्मण रेखाओं को उलांघने के अपने संकल्प को पूरा करने के लिए जोखि़म उठाती हैं। इस संकलन में मुस्लिम महिलाओं की रचनाएँ भी शामिल हैं, जिन्हें मजहब के नाम पर घरों के कैद रखा जाता है। उनकी जद्दोजहद भी इस पुस्तक में उजागर हुई है। विवाह स्त्री जीवन की परमाविधि नहीं हैं, आज स्त्री इस प्रथा पर भी प्रश्न उठा रही है। स्त्री की गुलामी के पक्षों उनकी जद्दोजहद के संकल्पों की अभिव्यक्ति विभिन्न रूपों में प्रस्तुत की गई है। श्री जे.एल. रेड्डी ने तेलुगु भाषा की सूक्ष्मताओं को बरकरार रखते हुए हिंदी में अनुवाद किया है, जिससे कहानियों का मूल तत्व यथावत रहा है। स्त्री-मुक्ति की अवधारणा को सशक्त करती ये पुस्तक आपके समक्ष है। "